https://www.fapjunk.com https://pornohit.net london escort london escorts buy instagram followers buy tiktok followers Ankara Escort
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeIndiaWeather Forecast Cold Wave In Up Bihar Punjab Haryana Madhya Pradesh Uttrakhand...

Weather Forecast Cold Wave In Up Bihar Punjab Haryana Madhya Pradesh Uttrakhand And Rajasthan


Weather Replace: उत्तर भारत के लोगों को ठंड से राहत नहीं मिल रही है. शीत लहर का असर इतना ज्यादा है कि सर्दी से बचने के उपाय भी नाकाफी साबित हो रहे हैं. इस बीच मौसम विभाग के मुताबिक अगले 48 घंटे में न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री की गिरावट आ सकती है. आईएमडी ने बताया कि आज पूर्वी उत्तर प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर कड़ाके की ठंड पड़ी.

उत्तर प्रदेश के अलावा पूर्वी मध्य प्रदेश, हरियाणा और उत्तर-पश्चिमी राजस्थान के अलग-अलग हिस्सों में भी ठंड की स्थिति बनी रही. मौसम विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान न्यूनतम तापमान पंजाब, हरियाणा-चंडीगढ़-दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और मध्य प्रदेश के अलंग-अलग हिस्सों में 6 से 10 डिग्री के बीच रहा. 

पंजाब में शीत लहर चलने की संभावना
शनिवार (20 जनवरी) को सबसे कम न्यूनतम तापमान पूर्वी मध्य प्रदेश के नौगांव में दर्ज किया गया. यहां टेम्प्रेचर 3.1 डिग्री रहा. मौसम विभाग ने पंजाब के कुछ स्थानों में 21 से 24 जनवरी के दौरान गंभीर शीत लहर चलने की चेतावनी दी है. इसके अलावा हरियाणा और चंडीगढ़ में भी अगले तीन दिन गंभीर शीत लहर चलने की संभावना है.

उत्तराखंड में कड़ाके सर्दी
फिलहाल उत्तराखंड में भी लोगों को सर्दी से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है. यहां कुछ हिस्सों में 20 और 21 जनवरी के बीच कड़ाके की सर्दी पड़ने की संभावना है. ऐसी ही स्थिति बिहार और पश्चिम राजस्थान में भी बनी रहेगी. 

अयोध्या में कोहरे का कोहराम
मौसम विभाग ने बताया कि अगले 2 दिनों के दौरान उत्तर भारत में घने से बहुत घने कोहरे की स्थिति बनी रहने और उसके बाद इसकी तीव्रता में कमी आने की संभावना है. गौरतलब है कि प्राण प्रतिष्ठा समारोह के मद्देनजर आईएमडी अयोध्या के मौसम पर खास नजर रखे हुए है. 

अयोध्या के लिए अलग से मौसम बुलेटिन जारी किया जा रहा है. अगले दो दिन अयोध्या में मध्यम कोहरे का अनुमान है. इस दौरान यहां विजिबलिटी 400 से 800 मीटर तक रहने की उम्मीद है.

यह भी पढ़ें- केंद्र सरकार ने जारी की एडवायजरी, ‘न प्रसारित करें रामलला की प्राण प्रतिष्ठा से जुड़ी कोई गलत सूचना’

RELATED ARTICLES

Most Popular