https://www.fapjunk.com https://pornohit.net london escort london escorts buy instagram followers buy tiktok followers Ankara Escort
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeIndiaRepublic Day 2024 India Droupadi Murmu hoisted flag at kartavya path delhi...

Republic Day 2024 India Droupadi Murmu hoisted flag at kartavya path delhi celebration in ranchi west bengal


India 76th Republic Day: दिल्ली सहित देश के सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में 75वां गणतंत्र दिवस धूमधाम मनाया गया. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कर्तव्य पथ पर आयोजित मुख्य समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया. कश्मीर घाटी में गणतंत्र दिवस पूरे जोश-ओ-खरोश से मनाया गया. घाटी के सभी जिला मुख्यालयों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच समारोह आयोजित किए गए. 

अधिकारियों ने बताया कि मुख्य समारोह श्रीनगर के बख्शी स्टेडियम में आयोजित किया गया, जिसमें उपराज्यपाल के सलाहकार राजेश राय भटनागर बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए. ठंड के बावजूद पुलिस, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल, सशस्त्र सीमा बल, राष्ट्रीय कैडेट कोर की टुकडियों और स्कूल के बच्चों ने परेड में हिस्सा लिया. भटनागर ने परेड की सलामी ली. परेड के बाद केंद्र शासित प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से आए कलाकारों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए.

बंगाल में राज्यपाल ने फहराया झंडा

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उपराज्यपाल भटनागर ने कहा कि प्रशासन ने जम्मू-कश्मीर को समग्र विकास के रास्ते पर लाने के लिए कदम उठाए हैं. पश्चिम बंगाल में भी गणतंत्र दिवस समारोह की धूम रही. राज्यपाल सीवी आनंद बोस ने कोलकाता के रोड पर गणतंत्र दिवस परेड समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनके कैबिनेट सहयोगी, पुलिस और सुरक्षाकर्मी और स्कूली बच्चे मौजूद थे.

गणतंत्र दिवस पर नवीन पटनायक ने क्या कहा?

इस कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष बिमान बंदोपाध्याय, मंत्री फिरहाद हकीम और चंद्रिमा भट्टाचार्य आदि भी उपस्थित थे. ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने राज्य के लोगों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी. उन्होंने अपने संदेश में कहा कि राज्य की आर्थिक प्रगति राष्ट्रीय औसत से बेहतर है. सीएम पटनायक ने कहा, ‘‘ओडिशा गरीबी उन्मूलन में शीर्ष पर है. नीति आयोग की रिपोर्ट कहती है कि पिछले नौ वर्षों में एक करोड़ से अधिक लोगों को गरीबी से बाहर निकाला गया है.’’

तेलंगाना के मुख्यमंत्री ए रेवंत रेड्डी ने गणतंत्र दिवस पर अपने आवास पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया. उन्होंने महात्मा गांधी और संविधान निर्माता बीआर आंबेडकर को पुष्पांजलि अर्पित की. उन्होंने हैदराबाद में परेड ग्राउंड में वीरुला सैनिक स्मारक पर युद्ध नायकों को श्रद्धांजलि भी अर्पित की. तेलंगाना में कई राजनीतिक दलों ने शुक्रवार को अपने-अपने पार्टी कार्यालयों में गणतंत्र दिवस मनाया.

भारत राष्ट्र समिति के कार्यकारी अध्यक्ष केटी रामा राव ने पार्टी मुख्यालय में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहराया. ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने हैदराबाद के मदीना सर्कल में तिरंगा फहराया. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेतृत्व वाली सरकार ने 2014 से राज्य में व्यवस्थागत परिवर्तन के लिए कई पहल लागू की. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार भगवान राम के शासन के सिद्धांतों से प्रेरित है.

सीएम खट्टर ने करनाल ने फहराया तिरंगा

सीएम खट्टर ने कहा कि कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लोगों को उनके घर तक पहुंचाया जा रहा है. करनाल में तिरंगा फहराने के बाद एक सभा को संबोधित करते हुए सीएम खट्टर ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण का उल्लेख किया. उन्होंने कहा, ”हम पारदर्शी तरीके से काम कर रहे हैं और अंत्योदय की भावना के साथ कमजोर वर्गों के उत्थान के लिए कदम उठा रहे हैं.”

 हरियाणा के मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए कई कदम उठाए हैं और एक सख्त संदेश दिया गया है कि भ्रष्टाचार को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘‘हमने जाति आधारित राजनीति को खत्म किया.’’ छत्तीसगढ़ के राज्यपाल विश्वभूषण हरिचंदन ने कहा कि उनकी सरकार का मूल सिद्धांत अनुसूचित जाति (एससी), अनुसूचित जनजाति (एसटी), आर्थिक रूप से वंचित, महिलाओं, युवाओं, बच्चों और किसानों के विकास पर अत्यधिक ध्यान देना है.

छत्तीसगढ़ के राज्यपाल ने नक्सली पर क्या कहा?

रायपुर के पुलिस परेड मैदान में गणतंत्र दिवस के मौके पर अपने संबोधन में राज्यपाल हरिचंदन ने कहा कि छत्तीसगढ़ को एक ऐसे क्षेत्र में बदलना है, जो नक्सली प्रभाव से मुक्त हो, जहां कानून और व्यवस्था मजबूत हो और राज्य शांति और विकास का गढ़ हो. उन्होंने कहा, ”हमारे लोकतंत्र की सफलता प्रत्येक व्यक्ति की सतत प्रतिबद्धता, आपसी सहयोग, राज्य और देश के विकास में सक्रिय भागीदारी और विज्ञान और प्रौद्योगिकी में प्रगति की तीव्र इच्छा में निहित है.”

उन्होंने कहा, ‘‘दूसरी ओर हम अपनी प्राचीन संस्कृति और आध्यात्मिक जागरूकता के महत्वपूर्ण योगदान को भी स्वीकार करते हैं.’’ त्रिपुरा के राज्यपाल इंद्रसेन रेड्डी नल्लू ने कहा कि राज्य की 70 प्रतिशत आबादी खेती पर निर्भर है, इसलिए प्रदेश सरकार किसानों की आय बढ़ाने पर विशेष ध्यान दे रही है. असम राइफल्स मैदान में गणतंत्र दिवस समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत राज्य के 2.46 लाख किसानों के बैंक खातों में 644 करोड़ रुपये जमा किए गए हैं.

राज्य के 12.60 लाख किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत लाया गया है. उन्होंने कहा, ”चूंकि 70 फीसदी आबादी कृषि पर निर्भर है, इसलिए सरकार विभिन्न उपाय के जरिए किसानों की आय बढ़ाने पर विशेष ध्यान दे रही है.” राज्यपाल ने राज्य में मौजूद कई पर्यटन केंद्रों का जिक्र करते हुए कहा कि रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए इस क्षेत्र को पुनर्जीवित करने के लिए कई कदम उठाए गए हैं.

सीएम भगवंत मान ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा

इस बीच पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में राज्य की झांकी को शामिल नहीं किए जाने को लेकर एक बार फिर केंद्र पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि मातृभूमि के लिए अनगिनत बलिदान देने वाले राज्य के बिना इस अवसर की कल्पना नहीं की जा सकती. लुधियाना में गणतंत्र दिवस समारोह को संबोधित करते हुए मान ने कहा कि जिन झांकियों को केंद्र ने अस्वीकार कर दिया, उन्हें शुक्रवार को राज्य में परेड के हिस्से के रूप में शामिल किया गया.

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने हाल ही में कहा था कि नरेन्द्र मोदी सरकार ने अपनी पंजाब विरोधी मानसिकता के कारण ही उनके राज्य की झांकी को खारिज कर दिया. केंद्र ने गणतंत्र दिवस परेड में राज्य की झांकी को शामिल नहीं करने के लिए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) नीत केंद्र सरकार की भगवंत मान की ओर से की गई आलोचना और भेदभाव के उनके आरोपों को निराधार कहकर खारिज कर दिया.

झारखंड के राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने कहा कि लोगों को अपने अधिकारों की जानकारी दी जानी चाहिए और सरकार की योजनाओं का लाभ उठाने में भ्रष्टाचार को बाधा नहीं बनना चाहिए. गणतंत्र दिवस के अवसर पर रांची के मोरहाबादी मैदान में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सुशासन, सामाजिक न्याय और सरकार के दो महत्वपूर्ण स्तंभ हैं.

सीएम हेमंत सोरेन ने अपनी सरकार की उपलब्धि गुनाई

इस अवसर पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि उनकी सरकार गरीबों, वंचितों, मजदूरों, किसानों, आदिवासियों, दलितों और पिछड़ों के अधिकारों के लिए काम कर रही है. दुमका में पुलिस लाइन में तिरंगा फहराते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड तभी मजबूत होगा, जब गांव मजबूत होंगे. गोवा के राज्यपाल पीएस श्रीधरन पिल्लई ने कहा कि प्राचीन और नवीन भारत के बीच कोई अंतर नहीं है, क्योंकि दोनों ही दुनिया में विकास, नवाचार या वैज्ञानिक उपलब्धियों के खिलाफ नहीं हैं.

पणजी में गणतंत्र दिवस परेड को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा कि धर्म की अवधारणा भारतीय संविधान की पहली प्रति में निहित है. गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत और सांसद सदानंद तनावड़े भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए. उन्होंने कहा, ”प्राचीन और नवीन भारत दोनों ही दुनिया में किसी भी तरह के विकास, नवाचार या वैज्ञानिक उपलब्धियों के खिलाफ नहीं हैं. हमारे दिल और दिमाग दुनिया की हर चीज को ग्रहण करने के लिए खुले हैं. यह हमारे देश की एक प्राचीन परंपरा है.”

राज्यपाल ने विश्वास जताया किया कि देश अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में सक्षम होगा और विश्व शांति के लिए विश्व गुरु बनेगा. उन्होंने कहा, ”हमारा संविधान दुनिया का सबसे स्वीकार्य लोकतांत्रिक संविधान है.”

ये भी पढ़ें: अधीर रंजन चौधरी ने डेरेक ओ’ब्रायन को कहा व‍िदेशी, कांग्रेस नेता के कमेंट पर भड़की टीएमसी, जानें क्या बोली

RELATED ARTICLES

Most Popular