asyabahisgo1.com dumanbetyenigiris.com pinbahisgo1.com www.sekabet-giris2.com olabahisgo.com maltcasino-giris.com faffbet.net betforward1.org 1xbet-farsi3.com www.betforward.mobi 1xbet-adres.com 1xbet4iran.com www.romabet1.com yasbet2.net 1xirani.com www.romabet.top
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeIndiaNo Confidence Motion Debate Asaduddin Owaisi Said If Amit Shah Will Knew...

No Confidence Motion Debate Asaduddin Owaisi Said If Amit Shah Will Knew That Quit India Was Given By A Muslim He Will Not Use This Word


Asaduddin Owaisi On Amit Shah: एआईएमआईएम (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने गुरुवार (10 अगस्त) को लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) पर निशाना साधा. ओवैसी ने कहा कि कल हमारे गृह मंत्री ने कहा कि ‘भारत छोड़ो’, अगर इन्हें पता चल जाए कि भारत छोड़ो (Quit India) का नारा एक मुसलमान ने दिया था तो वे (अमित शाह) वो भी नहीं बोलेंगे.

असदुद्दीन ओवैसी ने आगे कहा कि यूसुफ मेहर अली ने भारत छोड़ो का नारा बनाया जिसको महात्मा गांधी ने पूरे देश में एक पैगाम दिया. आज कहना चाहिए चाइना भारत छोड़ो. गौरक्षक मोनू मानेसर जो आज आपका डार्लिंग बन गया है उसको बोलें भारत छोड़ो. 

“क्या देश बड़ा है या हिंदुत्व की विचारधारा”

हैदराबाद के सांसद ने कहा कि आप तुष्टिकरण की राजनीति कर रहे हो. केंद्र सरकार जो राजनीति कर रही है, उससे नुकसान देश को होगा. मैं पीएम मोदी से पूछना चाहता हूं कि क्या देश बड़ा है या हिंदुत्व गोलवलकर की विचारधारा बड़ी है. 

अमित शाह ने क्या कहा था?

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को सदन में कहा था कि उन्होंने विपक्षी नेताओं के भाषण सुने और इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि यह अविश्वास प्रस्ताव केवल भ्रम पैदा करने के लिए लाया गया है. उन्होंने कहा कि भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ पर पीएम ने नारा दिया- ‘भ्रष्टाचार भारत छोड़ो, वंशवाद भारत छोड़ो और तुष्टिकरण भारत छोड़ो’. पीएम मोदी ने 2014 से राजनीति के एक नए युग की शुरुआत की है.

असदुद्दीन ओवैसी ने सरकार से पूछे सवाल

लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान एआईएमआईएम नेता ओवैसी ने ट्रेन में आरपीएफ कांस्टेबल की गोलीबारी, हरियाणा के नूंह में हिंसा के बाद बुलडोजर एक्शन और बिलकिस बानो मामले सहित कई घटनाओं को लेकर सवाल उठाए. साथ ही उन्होंने कहा कि कई स्कॉलरशिप बंद कर दी गईं, जिसके परिणामस्वरूप 1.80 लाख मुसलमान अपनी उच्च शिक्षा पूरी करने में असफल रहे. 

ये भी पढ़ें- 

No Confidence Motion: अविश्वास प्रस्ताव पर पीएम के भाषण के बाद वोटिंग से पहले वॉकआउट कर सकते हैं विपक्षी सांसद



RELATED ARTICLES

Most Popular