https://www.fapjunk.com https://pornohit.net london escort london escorts buy instagram followers buy tiktok followers
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeIndiaLalu Yadav Daughter Rohini Acharya profile who is she when got married...

Lalu Yadav Daughter Rohini Acharya profile who is she when got married why attacking Nitish Kumar Bihar


Lalu Yadav Daughter Rohini Acharya Profile: 28 जनवरी की तारीख बिहार की राजनीति के लिए बेहद खास रही. सुबह के समय नीतीश कुमार ने आरजेडी, कांग्रेस और वाम दलों के साथ गठबंधन तोड़ते हुए मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. इसके बाद वो बीजेपी के नेतृत्व वाली एनडीए में शामिल हो गए. हालांकि इसकी पटकथा काफी पहले से लिखी जा रही थी, लेकिन आपको जानकर आश्चर्य होगा कि लालू यादव के साथ से तौबा करने वाले नीतीश कुमार की नाराजगी की कई वजहों में से एक लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य भी हैं.

25 जनवरी को उनके एक के बाद एक तीन ट्वीट ने बिहार की राजनीति में बखेड़ा खड़ा कर दिया था. उन ट्वीट्स के जरिए नीतीश कुमार पर इशारे-इशारे में हमला बोलने वाली रोहिणी ने हालांकि बाद में अपना पोस्ट हटा लिया था, लेकिन रविवार को एक बार फिर जब नीतीश कुमार ने एनडीए का दामन थाम लिया है तो उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा है- ‘बिहार का लिट्टी चोखा और पलटूराम का धोखा राष्टीय स्तर पर प्रसिद्ध है.’ सोशल मीडिया पर रोहिणी आचार्य का पोस्ट छाया हुआ है और लोग यह जानना चाहते हैं कि आखिर वे हैं कौन? चलिए हम आपको बताते हैं.

Lalu Yadav के नौ बच्चों में दूसरी संतान 

रोहिणी आचार्य लालू प्रसाद यादव के नौ बच्चों में दूसरी संतान हैं. लालू की सबसे बड़ी बेटी मीसा भारती हैं. उसके बाद रोहिणी के बाद लालू की चार बेटियां हैं. उसके बाद तेजप्रताप यादव और तेजस्वी यादव का जन्म हुआ. लालू की सबसे छोटी संतान उनकी बेटी राजलक्ष्मी हैं. यानि बेटे के जन्म से पहले लालू को छह बेटियां हुईं और बेटों से जन्म के बाद एक बेटी.

43 साल की रोहिणी का जन्म एक जून 1979 को पटना में हुआ था. उनके सर नेम ‘आचार्य’  को लेकर भी लोग कई सवाल उठते हैं. दरअसल पढ़ाई के दौरान ही उनका नाम रोहिणी आचार्य रखा गया था. स्कूली पढ़ाई पूरी करने के बाद रोहिणी ने मेडिकल क्षेत्र को करियर के रूप में चुना था.

सिंगापुर में रहती हैं रोहिणी 

रोहिणी ने जमशेदपुर के एमजीएम मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस भी किया है. हालांकि उन्होंने कभी मेडिकल प्रैक्टिस नहीं की. उनकी शादी 24 मई 2002 को समरेश सिंह से हुई थी. समरेश सिंह सिंगापुर में ही आईटी सेक्टर में नौकरी करते हैं. वहीं पति के साथ रोहिणी भी रहती हैं. समरेश सिंह ने सिंगापुर से एमबीए की पढ़ाई भी की है और उसी दौरान उनको सिंगापुर में ही नौकरी मिल गई थी.

समरेश सिंह के परिवार का राजनीति से कोई संबंध नहीं है. उनके पिता राव रणविजय सिंह ने यूपीएससी की परीक्षा पास की थी. उन्हें इंडियन रेवेन्यू सर्विसेस के लिए चुना गया था. राव रणविजय सिंह और लालू प्रसाद यादव कॉलेज के जमाने से दोस्त भी थे. रणविजय सिंह आयकर विभाग में अधिकारी थे. अब उनका निधन हो चुका है. जबकि रोहिणी की सास प्रोफेसर रही हैं. रोहिणी की शादी एमबीबीएस की पढ़ाई के दौरान ही हो गई थी. रोहिणी और समरेश सिंह के एक बेटी और दो बेटे हैं.

रोहिणी सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव

रोहिणी आचार्य सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं. पुरानी यादें हों या जन्मदिन की पार्टी या फिर कोई त्योहार, रोहिणी अक्सर इनसे जुड़ी तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा करती हैं. वह राजनीतिक मुद्दों पर भी खूब ट्वीट करती हैं या अपने फेसबुक पर लिखती हैं. वो अक्सर अपने भाई तेजस्वी यादव के लिए भी सोशल मीडिया पर कई बार ट्वीट करती हैं. पिता लालू प्रसाद यादव की तबियत बिगड़ने के बाद रोहिणी ने लालू की भी कई पुरानी तस्वीरें पोस्ट की थी. 

नीतीश कुमार के खिलाफ ट्वीट कर आई चर्चा में

रोहिणी आचार्य ने 25 जनवरी को सोशल मीडिया पर बैक-टू-बैक पोस्ट कर बिहार सीएम नीतीश कुमार को नाराज कर दिया था. रोहिणी आचार्य की ओर यह पोस्ट नीतीश कुमार की ओर से बिहार के जननायक कर्पूरी ठाकुर की जनशताब्दी जयंती पर दिए गए भाषण के बाद सामने आया था, हालांकि, बाद में उन्होंने उसे डिलीट भी कर दिया. नीतीश कुमार ने परिवारवाद को लेकर हमला बोला था. नीतीश कुमार ने कहा था कि कर्पूरी ठाकुर ने कभी अपने परिवार को आगे नहीं बढ़ाया. उन्होंने बिना किसी का नाम लेते हुए कहा कि आज कल के लोग अपने परिवार को बढ़ाते हैं. हमने भी कर्पूरी जी से सीख लेकर अपने परिवार से राजनीति में किसी को आगे नहीं बढ़ाया. कर्पूरी के नहीं रहने के बाद हमने उनके बेटे रामनाथ ठाकुर को हमने बनाया. इसके बाद रोहिणी ने सोशल मीडिया पर पलटवार किया था.

पिता को दी है किडनी 

रोहिणी सबसे ज्यादा तब चर्चा में आईं जब 5 दिसंबर 2022 को उन्होंने अपने पिता लालू यादव को अपनी किडनी डोनेट की थी थी. 2022 से पहले लालू यादव की सेहत दिन पर दिन गिरते जा रही थी. किडनी खराब होने की वजह से स्वास्थ्य से जुड़ी कई सारी दिक्कतें भी आने लगी थी. इसके बाद सिंगापुर में डॉक्टरों की सलाह लेने के बाद रोहिणी आचार्य ने अपनी एक किडनी पिता को दान करने का फैसला किया. किडनी ट्रांसप्लांट सफल भी रहा और लालू यादव की सेहत में भी सुधार हुआ था जिसके बाद लोगों ने रोहिणी की खूब सराहना की थी.

 ये भी पढ़ें:Tejashwi Yadav: ‘खेला बाकी है, शपथ आज ले लें…’, नीतीश कुमार के यूटर्न पर तेजस्वी यादव का पहला बयान

RELATED ARTICLES

Most Popular