asyabahisgo1.com dumanbetyenigiris.com pinbahisgo1.com www.sekabet-giris2.com olabahisgo.com maltcasino-giris.com faffbet.net betforward1.org 1xbet-farsi3.com www.betforward.mobi 1xbet-adres.com 1xbet4iran.com www.romabet1.com yasbet2.net 1xirani.com www.romabet.top
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeIndiaJadavpur University Ragging Case Deceased Student Was Put Under Mental Pressure Seniors...

Jadavpur University Ragging Case Deceased Student Was Put Under Mental Pressure Seniors Demands Physical Details In Inroduction


Jadavpur University Ragging Case: कोलकाता पुलिस ने जादवपुर यूनिवर्सिटी कैंपस में रैगिंग के कारण फर्स्ट ईयर के एक छात्र की मौत के मामले में दो और छात्रों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान 19 साल के दीपशेखर दत्ता और 20 वर्षीय मनोतोष घोष के रूप में हुई है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, जब फर्स्ट ईयर के छात्रों के साथ कैंपस में रैगिंग हो रही थी तो ये दोनों मौके पर मौजूद थे. 

सूत्रों ने बताया कि दोनों ने मुख्य आरोपी सौरव चौधरी के कहने पर मृतक स्वप्नदीप कुंडू को परेशान किया था. बता दें सौरव यूनिवर्सिटी का पूर्व छात्र है. पुलिस मामले में उसे पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है. जानकारी के अनुसार,  दीपशेखर और मनोतोष ने मृतक छात्र पर मानसिक दबाव डाला और उसे परेशान किया.

कथित रैगिंग में शामिल दोनों छात्र
एक वरिष्ठ अधिकारी ने इंडिया टुडे को बताया, “हमने जांच के दौरान पाया कि वे कथित रैगिंग में शामिल थे. इसके बाद हमने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. शुरुआत में स्वप्नदीप कुंडू को मेन हॉस्टल में रूम नहीं मिला था, इसलिए वह मनोतोष घोष का गेस्ट बनकर वहां रहने लगा.”

दूसरी मंजिल से गिरकर स्वप्नदीप कुंडू की मौत
उन्होंने कहा कि दीपशेखर इकोनॉमिक्स डिपार्टमेंट में सेंकड ईयर का छात्र है, जबकि घोष जादवपुर विश्वविद्यालय में समाजिक विज्ञान का छात्र है. ये दोनों मुख्य छात्रावास में रहते हैं, जहां स्वप्नदीप कुंडू इमारत की दूसरी मंजिल से गिर गया और उसकी मौत हो गई.

आला अधिकारी कर रहे हैं जांच की निगरानी
रिपोर्ट के मुताबिक, कोलकाता पुलिस के सीपी विनीत गोयल ने बताया “हमने विश्वविद्यालय के दो छात्रों और एक पूर्व छात्र सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. मामले में चल रही जांच की निगरानी आला अधिकारी कर रहे हैं. ज्वाइंट सीपी (अपराध) व्यक्तिगत रूप से पुलिस स्टेशन जा रहे हैं और विश्वविद्यालय अधिकारियों और छात्रों से पूछताछ कर रहे हैं.” उन्होंने कहा कि डीसीपी (एसएसडी) ने व्यक्तिगत रूप से घटनास्थल और जादवपुर पुलिस स्टेशन का भी दौरा किया. 

नग्न अवस्था में मिला शव
उल्लेखनीय है कि मृतक का शव नग्न अवस्था में मिला था. मरने से पहले वह बार-बार कह रहा था कि ‘मैं समलैंगिक नहीं हूं.’ मामले में पुलिस ने शुक्रवार (11 अगस्त) को सौरव चौधरी को गिरफ्तार किया और उसके बयान के आधार पर शनिवार (12 अगस्त) सुबह 12 और छात्रों और हॉस्टल के निवासियों को बुलाया और उनसे लंबी पूछताछ की.

तीनों आरोपियों ने कबूला गुनाह
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि पूछताछ के दौरान सौरव चौधरी ने रैगिंग की घटना में अपनी संलिप्तता कबूल कर ली है. पुलिस सूत्रों ने बताया कि तीनों आरोपियों ने कुंडू को अपनी कुर्सी को एक स्पेसिफिक स्टाइल में काटने को कहा. इसके बाद उसे हॉस्टल के ए-2 ब्लॉक के कॉमन रूम में ले जाकर उसे सीनियर्स को अपना परिचय देते हुए अपनी शारीरिक जानकारी देने को कहा.

एक छात्र ने की थी बचाने की कोशिश
वहां मौजूद एक अन्य छात्र ने स्वप्नदीप को बचाने की कोशिश की, लेकिन तभी वह बालकनी से कूद गया और उसकी मौत हो गई. सूत्रों ने दावा किया कि स्वप्नदीप को तीन दिनों में दो बार अपने हॉस्टल के सीनियर्स को अपना परिचय देना पड़ा.

यह भी पढ़ें- मॉब लिंचिंग से लेकर सजा-ए-मौत तक, आईपीसी-सीआरपीसी के रिप्लेसमेंट में लाए जा रहे बिल में क्या-क्या बदला?

RELATED ARTICLES

Most Popular