https://www.fapjunk.com https://pornohit.net london escort london escorts buy instagram followers buy tiktok followers
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeIndia'INDIA' गठबंधन को पीएम फेस की जरूरत नहीं', नीतीश कुमार पर क्या...

‘INDIA’ गठबंधन को पीएम फेस की जरूरत नहीं’, नीतीश कुमार पर क्या बोले शरद पवार?


Sharad Pawar On I.N.D.I.A Assembly : एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने शनिवार (13 जनवरी) को कहा कि ‘इंडिया’ गठबंधन के सदस्यों के बीच संयोजक की नियुक्ति को लेकर कोई विवाद नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में गठबंधन को पीएम फेस आगे करने की भी जरूरत नहीं है.

 पवार ने कहा कि लोकसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने के बाद नेता का चुनाव किया जा सकता है. शनिवार को गठबंधन की वर्चुअल बैठक के दौरान नीतीश कुमार ने संयोजक का पद स्वीकार करने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद से इस पर चर्चा तेज हो गई.

नीतीश कुमार पर शरद पवार ने क्या कहा?

न्यूज एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, शरद पवार ने कहा कि शनिवार को हुई ‘इंडिया’ गठबंधन के नेताओं की वर्चुअल बैठक के दौरान संयोजक पद के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का नाम सुझाया गया. हालांकि उन्होंने (कुमार ने) राय व्यक्त की कि पार्टी प्रमुखों की एक टीम बनाई जानी चाहिए और संयोजक नियुक्त करने की कोई आवश्यकता नहीं है. बैठक के दौरान ‘इंडिया’ गठबंधन के नेताओं ने गठबंधन के विभिन्न पहलुओं और अप्रैल-मई में होने वाले लोकसभा चुनाव की तैयारियों पर चर्चा की.

नीतीश कुमार ने कहा – संयोजक नियुक्त करने की आवश्यकता नहीं

पवार ने बैठक में भाग लेने के बाद पुणे जिले के जुन्नार में संवाददाताओं से कहा, “गठबंधन के सदस्यों द्वारा (बैठक के दौरान) एक सुझाव दिया गया कि नीतीश कुमार को इसका संयोजक नियुक्त किया जाए, लेकिन उन्होंने (कुमार ने) कहा कि पार्टी प्रमुखों की एक टीम का गठन किया जाना चाहिए और संयोजक नियुक्त करने की कोई आवश्यकता नहीं है.”

चुनाव के बाद नेता का चयन करेंगे’

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष ने कहा, ‘‘वोट मांगने के लिए किसी चेहरे को आगे करने की जरूरत नहीं है. हम चुनाव के बाद नेता का चयन करेंगे और हमें विकल्प उपलब्ध कराने का भरोसा है. शरद पवार ने उदाहरण देते हुए कहा कि 1977 में मोरारजी देसाई को विपक्ष द्वारा प्रधानमंत्री पद के चेहरे के रूप में पेश नहीं किया गया था.’’

उन्होंने कहा कि यह एक सकारात्मक संकेत है कि कई दल एक साथ आ रहे हैं. पवार ने कहा कि वह पूरी बैठक में शामिल नहीं हो सके क्योंकि उनकी कुछ अन्य पूर्व निर्धारित व्यस्तताएं थीं.

‘‌ उम्मीदवारों के बारे में नहीं हुई कोई चर्चा’

उन्होंने कहा, ‘उम्मीदवारों (लोकसभा चुनाव के लिए) के बारे में चर्चा नहीं हुई… हम सीट-बंटवारे पर चर्चा करेंगे. महाराष्ट्र में लोकसभा सीट को लेकर सीट-बंटवारे पर चर्चा हुई और इसे अंतिम रूप दिए जाने के बाद हम घोषणा करेंगे.’

गठबंधन के दलों की बनेगी नई समिति’

पवार ने कहा कि ‘इंडिया’ गठबंधन की बैठक में संबंधित कार्यक्रमों और नीतियों पर चर्चा की गई. उन्होंने कहा कि यह निर्णय लिया गया कि एक समिति बनाई जाएगी जो पूरे देश में सहयोगी दलों की संयुक्त रैलियां आयोजित करने पर फैसला करेगी.

‘राम मंदिर का कोई विरोध नहीं’

राम मंदिर मुद्दे पर पवार ने कहा, ”अयोध्या में राम मंदिर का कोई विरोध नहीं करता, लेकिन जिस मंदिर का निर्माण अभी पूरा नहीं हुआ है, उसमें प्राण-प्रतिष्ठा समारोह आयोजित करने के राजनीतिक मकसद पर सवाल उठ रहा है.”

आपको बता दें कि आगामी 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर विपक्ष भाजपा पर राजनीतिक लाभ के लिए कार्यक्रम आयोजित करने का आरोप लगा रहा है. इंडिया गठबंधन में शामिल लगभग सभी दलों ने इसमें शामिल होने से इनकार कर दिया है.

ये भी पढ़ें:Rajnath Singh: ‘हिंदुओं के लिए अयोध्या वही है, जो मुसलमानों के लिए मक्का’, राजनाथ सिंह ने राम मंदिर पर और क्या कहा?

RELATED ARTICLES

Most Popular