asyabahisgo1.com dumanbetyenigiris.com pinbahisgo1.com www.sekabet-giris2.com olabahisgo.com maltcasino-giris.com faffbet.net betforward1.org 1xbet-farsi3.com www.betforward.mobi 1xbet-adres.com 1xbet4iran.com www.romabet1.com yasbet2.net 1xirani.com www.romabet.top
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeIndiaCongress Leader Rahul Gandhi Accused BJP Of Insulting Tribals By Calling Them...

Congress Leader Rahul Gandhi Accused BJP Of Insulting Tribals By Calling Them Vanvasi Instead Of Adivasi During Rally In Wayanad


Rahul Gandhi Wayanad Rally: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार (13 अगस्त) को वायनाड में एक रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी पर जनजातीय समुदायों को जंगलों तक सीमित करने की कोशिश करने का आरोप लगाया. साथ ही उन्होंने जनजातीय समुदायों को आदिवासी (Adivasi) की जगह ‘वनवासी’ (Vanvasi) कहकर उन्हें भूखंडों के मूल स्वामित्व के दर्जे से वंचित करने की भी बात कही.

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि आदिवासियों को वनवासी कहने के पीछे एक विकृत तर्क दिया जाता है. उन्होंने कहा, “ये आपको (आदिवासियों को) जमीन के मूल मालिक के अधिकार से वंचित करता है और इसका मकसद आपको जंगल तक ही सीमित रखना है. इसका मतलब ये है कि आप जंगल से संबंध रखते हैं और आपको जंगल नहीं छोड़ना चाहिए.” 

“कांग्रेस के लिए आप आदिवासी हैं”

कांग्रेस नेता ने कहा कि ये विचारधारा उनकी पार्टी को स्वीकार नहीं है, क्योंकि वनवासी शब्द जनजातीय समुदायों के इतिहास एवं परंपराओं को तोड़-मरोड़कर पेश करता है और यह देश के साथ उनके रिश्ते पर एक हमला है. उन्होंने कहा, “हमारे (कांग्रेस के) लिए आप आदिवासी हैं, भूमि के मूल मालिक हैं.” राहुल गांधी ने कहा कि चूंकि आदिवासी भूमि के मूल मालिक हैं, उन्हें भूमि एवं वन संबंधी अधिकार दिए जाने चाहिए और वे जो चाहें, उन्हें वह करने की कल्पना करने की अनुमति दी जानी चाहिए. 

राहुल गांधी ने और क्या कहा?

उन्होंने कहा कि इन समुदायों को शिक्षा, नौकरियों, पेशों इत्यादि में वे सभी अवसर दिए जाने चाहिए, जो देश में हरेक को दिए जाते हैं. कांग्रेस सासंद ने कहा, “आपको (जनजातीय समुदायों को) सीमित या वर्गीकृत नहीं किया जाना चाहिए. पूरा ग्रह आपके लिए खुला होना चाहिए.” राहुल गांधी ने कहा कि आदिवासी शब्द का अर्थ एक विशेष ज्ञान, जिस पृथ्वी पर हम रहते हैं उसके पर्यावरण की समझ और ग्रह के साथ संबंध से है.

“हमें आपसे बहुत कुछ सीखना है”

उन्होंने कहा कि आधुनिक समाज की ओर से जंगलों को जलाए जाने और प्रदूषण फैलाने के बाद पर्यावरण और पर्यावरण संरक्षण शब्द अब प्रचलित हो गए हैं, लेकिन आदिवासी पर्यावरण संरक्षण की बात हजारों साल से करते आ रहे हैं, इसलिए हमें आपसे बहुत कुछ सीखना है. 

राहुल गांधी ने रविवार को वायनाड जिले में मानंतवाड़ी क्षेत्र के नल्लूरनाड स्थित ‘डॉ. अंबेडकर जिला मेमोरियल कैंसर सेंटर’ में ‘एचटी (हाई टेंशन) कनेक्शन’ का उद्घाटन किया. कांग्रेस नेता ने कैंसर केंद्र का जिक्र करते हुए उम्मीद जताई कि क्षेत्र में लगातार बिजली कटौती के कारण चिकित्सकों और मरीजों को होने वाली समस्याओं का नये बिजली कनेक्शन की मदद से समाधान हो जाएगा. 

उन्होंने कहा कि उन्हें इसके लिए संसद सदस्य स्थानीय क्षेत्र विकास योजना (एमपीएलएडीएस) निधि से 50 लाख रुपये प्रदान करने में खुशी हो रही है. जिले के अधिकारियों के अच्छे कार्यों के परिणामस्वरूप अस्पताल को अतिरिक्त पांच करोड़ रुपये मिलेंगे. राहुल गांधी ने कहा, “मुझे भरोसा है कि इससे उत्पादकता बढ़ाने में मदद मिलेगी.” 

सदस्यता बहाल होने के बाद पहली बार आए वायनाड 

राहुल गांधी दो-दिवसीय दौरे पर शनिवार को केरल पहुंचे थे. ये वायनाड के प्रतिनिधि के रूप में लोकसभा सदस्यता बहाल होने के बाद उनकी पहली यात्रा है. राहुल गांधी ने कुछ दिन पहले राजस्थान में भी कांग्रेस की एक रैली को संबोधित करते हुए भी ये मामला उठाया था. उन्होंने राजस्थान में कहा था कि बीजेपी जनजातीय समुदायों को आदिवासी की जगह वनवासी कहकर उनका अपमान करती है और उनकी वन भूमि छीनकर उद्योगपतियों को देती है.

ये भी पढ़ें- 

Chhattisgarh: ‘मोदी और शाह हमारे स्कूलों में पढ़ें हैं’, प्रधानमंत्री के लोकसभा में दिए गए भाषण पर मल्लिकार्जुन खरगे का तंज

RELATED ARTICLES

Most Popular