https://www.fapjunk.com https://pornohit.net london escort london escorts buy instagram followers buy tiktok followers Ankara Escort
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeIndiaCongress insults Ambedkar again says BJP spokeperson shehzad poonawala on Sam Pitroda...

Congress insults Ambedkar again says BJP spokeperson shehzad poonawala on Sam Pitroda deletesd post


BJP Targets Congress: भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने शनिवार (27 जनवरी) को सोशल मीडिया पर की गई एक पोस्ट को लेकर इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा पर निशाना साधा. हालांकि, कांग्रेस नेता ने बाद में इस पोस्ट को डिलीट कर दिया. पोस्ट में सुधींद्र कुलकर्णी के लिखे गए एक आर्टिकल का लिंक था, जिसमें कहा गया था कि संविधान और इसकी प्रस्तावना में आंबेडकर से ज्यादा नेहरू का योगदान था. 

पित्रोदा की पोस्ट सामने आने के बाद बीजेपी प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस पर आंबेडकर का अपमान करने का आरोप लगाया. उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर कहा कि कांग्रेस ने फिर आंबेडकर का अपमान किया.

‘कांग्रेस ने आंबेडकर को भारत रत्न से वंचित रखा’
उन्होंने कहा, “हम जानते हैं कि कांग्रेस ने हमेशा बाबासाहेब आंबेडकर से नफरत की है. उन्होंने दशकों तक उन्हें भारत रत्न से वंचित रखा, क्योंकि वे केवल एक परिवार की पूजा करते हैं. अब राहुल गांधी के निर्देश पर सैम पित्रोदा ने आंबेडकर का अपमान किया है. यहां तक कि संविधान में उनके योगदान को भी नकार दिया है.”

पूनावाला ने कहा कि ये शब्द सैम पित्रोदा के हैं, लेकिन भावनाएं सोनिया और राहुल गांधी की हैं, जो आंबेडकर और अनुसूचित (SC) समाज से नफरत करते हैं.

‘संविधान लिखने की प्रक्रिया कांग्रेस ने शुरू की’
पित्रोदा की पोस्ट के बाद राजनीतिक कार्यकर्ता सुधींद्र कुलकर्णी भी अपनी राय को लेकर निशाने पर आ गए है. फिलहाल कुलकर्णी ने इस संबंध में माफी मांगने से इनकार कर दिया है. उन्होंने कहा, “मैं डॉ आंबेडकर का बहुत सम्मान करता हूं, क्योंकि उन्होंने हिंदू समाज में न्याय और समानता के लिए लड़ाई लड़ी. उन्होंने कई सामाजिक सुधारों का नेतृत्व किया.”

कुलकर्णी ने आगे कहा कि फैक्ट के आधार पर मैंने एक आर्टिकल लिखा था कि नेहरू का योगदान आंबेडकर से अधिक था, जिसने भी इतिहास पढ़ा है वह इस बात को स्वीकार करेगा. क्योंकि कांग्रेस ने संविधान लिखने की प्रक्रिया शुरू की थी.

उन्होंने कहा, “मैं अब किसी भी राजनीतिक दल में नहीं हूं. मैं एक समय बीजेपी के साथ था. मेरे शब्दों का राजनीतिक इस्तेमाल या दुरुपयोग नहीं किया जाना चाहिए. आंबेडकर ने खुद कहा था कि यह उनका संविधान नहीं है.”

यह भी पढ़ें- ‘चलो छुटकारा तो मिला…’ नीतीश कुमार के NDA में शामिल होने की खबरों को लेकर क्या बोलीं ममता बनर्जी?



RELATED ARTICLES

Most Popular