https://www.fapjunk.com https://pornohit.net london escort london escorts buy instagram followers buy tiktok followers
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeIndiaClimate Change in India after 123 years lowest rain in January IMD...

Climate Change in India after 123 years lowest rain in January IMD update about Weather


IMD Weather: दुनिया में जलवायु परिवर्तन (Climate Change) के साथ देश के मौसम (Weather) में भी बड़ा बदलाव देखने को मिला है. 123 सालों में ऐसा पहली बार हुआ है कि जनवरी (2024) में भारत में सबसे कम बारिश हुई. बुधवार (31 जनवरी, 2024) को मौसम विभाग (आईएमडी) के महानिदेशक डॉक्टर मृत्युंजय महापात्रा ने जानकारी दी कि जनवरी में 91% कम बारिश हुई है. उन्होंने इसके साथ ही ‘फरवरी, 2024 के लिए बारिश और तापमान के लिए मासिक आउटलुकट’ जारी किया जिसके अनुसार उत्तर भारत में 1901 के बाद दूसरी सबसे कम बारिश जनवरी 2024 में हुई है. मौसम में इसके अलावा कई और बदलाव भी हुए जिनमें दिसंबर से जनवरी के बीच सबसे लंबा कोहरा और फरवरी में सबसे अधिक बारिश की संभावना शामिल है.
 
वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में मृत्युंजय महापात्रा ने बताया कि जनवरी 2024 में उत्तर भारत में महज 3.1 मिलीमीटर वर्षा हुई जो 1901 के बाद दूसरी सबसे कम बारिश थी. जनवरी में भले ही सबसे कम बारिश हुई है लेकिन 25 दिसंबर से 30 जनवरी तक गंगा के मैदानी इलाकों में कोहरा छाया रहा, जो हाल के वर्षों में इस क्षेत्र के सबसे लंबे समय में से एक है. उन्होंने कहा कि जुलाई से सितंबर के आसपास भारतीय दक्षिण-पश्चिम मानसून के संकेत हैं. इसके प्रभाव से बारिश देश भर में होगी.

अगले 5 दिन कैसा रहेगा मौसम?

आईएमडी) के महानिदेशक के मुताबिक, अगले 5 दिनों में देश के किसी भी हिस्से में कोल्ड डे की स्थिति नहीं होगी. इस दौरान पंजाब, चंडीगढ़, हरियाणा, दिल्ली में हल्की या मध्यम या छिटपुट से लेकर अधिक बारिश हो सकती है, जबकि फरवरी में उत्तर भारत में सामान्य से अधिक बारिश का अनुमान है. यह लंबे समय से चले आ रहे औसत के 122% से अधिक होगी.

IMD के DG ने ये चीजें भी बताईं

आईएमडी के अपडेट के हवाले से उन्होंने कहा कि उत्तर-पूर्व, मध्य और उत्तर-पश्चिम भारत के अधिकांश हिस्सों में सामान्य से अधिक और दक्षिण प्रायद्वीप में सामान्य से कम बारिश हो सकती है. वहीं, फरवरी में उत्तर-पश्चिम, पश्चिम मध्य और उत्तर-पूर्व भारत और पूर्व-मध्य भारत के कुछ हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य से ऊपर रहने की संभावना है.

ये भी पढ़ें:Finances 2024: देश में ज्यादा मेडिकल कॉलेज भी बनवाएगी केंद्र सरकार, युवाओं के लिए बजट में हुआ बड़ा ऐलान

RELATED ARTICLES

Most Popular