https://www.fapjunk.com https://pornohit.net london escort london escorts buy instagram followers buy tiktok followers Ankara Escort Cialis Cialis 20 Mg
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeIndiacentral government to introduce new bill in parliament to stop Paper Leak...

central government to introduce new bill in parliament to stop Paper Leak parliament budget session


Bill To Stop Paper Leak Throughout India : लंबी तैयारी के बाद परीक्षा के समय पेपर लीक से परेशान होने वाले प्रतिभागियों को अब राहत मिलने वाली है. सरकार प्रतियोगी परीक्षाओं में गड़बड़ी और अनियमितताओं से सख्ती से निपटने के लिए अगले सप्ताह संसद में एक नया विधेयक पेश कर सकती है. सूत्रों ने यह जानकारी दी.

सूत्रों ने बताया कि विधेयक में इस अपराध के लिए अधिकतम 10 साल तक की जेल और एक करोड़ रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान हो सकता है. पेपर लीक पर लगाम लगाने के लिए लोक परीक्षा (अनुचित साधन रोकथाम) विधेयक, 2024 सोमवार को संसद में पेश किया जा सकता है, लेकिन अभी तक अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है. 

  हाल ही में मंत्रिमंडल ने दी है मंजूरी

जानकारी मिली है कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने हाल में इस विधेयक को मंजूरी दी थी.  प्रस्तावित विधेयक में विद्यार्थियों को निशाना नहीं बनाया जाएगा, बल्कि इसमें संगठित अपराध, माफिया और साठगांठ में शामिल पाए गए लोगों के खिलाफ कार्रवाई का प्रावधान है.  विधेयक में एक उच्च-स्तरीय तकनीकी समिति का भी प्रस्ताव है, जो कम्प्यूटर के माध्यम से परीक्षा प्रक्रिया को और अधिक सुरक्षित बनाने के लिए सिफारिशें करेगी. यह एक केंद्रीय कानून होगा और इसके दायरे में संयुक्त प्रवेश परीक्षाएं और केंद्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिले के लिए होने वाली परीक्षाएं भी आएंगी.

राष्ट्रपति मुर्मू ने दिए थे संकेत

इससे पहले, बुधवार (31 जनवरी) को बजट सत्र की शुरुआत पर संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने इस विधेयक के बारे में संकेत दिया था. उन्होंने कहा कि सरकार परीक्षाओं में होने वाली गड़बड़ी को लेकर युवाओं की चिंताओं से अवगत है. उन्होंने कहा, ‘‘इस दिशा में सख्ती लाने के लिए नया कानून बनाने का निर्णय लिया गया है.” 

इन राज्यों में लीक हुए थे पेपर

दरअसल पेपर लीक होना एक राष्ट्रव्यापी समस्या बन गयी है, इसलिए अपनी तरह का पहला केंद्रीय कानून लाने की आवश्यकता महसूस की गयी.  गुजरात जैसे कुछ राज्य इस समस्या से निपटने के लिए अपने कानून लेकर आए हैं. पिछले साल परीक्षा पत्र लीक होने के बाद राजस्थान में शिक्षक भर्ती परीक्षा, हरियाणा में ग्रुप-डी पदों के लिए साामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी), गुजरात में कनिष्ठ लिपिकों के लिए भर्ती परीक्षा और बिहार में कांस्टेबल भर्ती परीक्षा समेत अन्य परीक्षाएं रद्द की गयी थीं. इसे लेकर कई बार विरोध प्रदर्शन भी हुए हैं, जिसके बाद केंद्र सरकार ने इस पर रोक लगाने की पहल शुरू की है.

ये भी पढ़ें :GST Assortment: बजट से पहले सरकार को खुशखबरी, जीएसटी कलेक्शन में जबरदस्त इजाफा

RELATED ARTICLES

Most Popular